गुरुवार , दिसम्बर 05 2019 | 11:26:25 PM
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / लंदन में मची गणगौर की धूम

लंदन में मची गणगौर की धूम

जयपुर। सात समन्दर पार लन्दन की धरती गणगौर की सवारी, राजस्थानी परिधानों में सजीधजी महिलाओं के कंठ से गूंजते-गौर गोमती, हंजा मारू जैसे गीतों से इग्लिशतान की धरती मरूधरा की रंगा-बिरंगी संस्कृति के रंगो से सराबोर हो उठी।
अवसर था, गणगौर त्यौहार तथा ‘राजस्थान दिवस’ का लन्दन के हैरो स्थित क्लेरेमॉन्ट हाई स्कूल प्रांगण में राजस्थान एसोसियेशन ऑफ यू.के. के तत्वावधान में आयोजित इस आयोजन के दौरान अपने प्रदेश से हजारों मील दूर बसे प्रवासी राजस्थानियों ने एक मंच पर आकर राजस्थान की गौरव गाथा की गूंज से चारों दिशाओं को गुंजायमान कर दिया।
भाईपो के प्रतिनिधि ने बताया कि लन्दन में गणगौर उत्सव के साथ राजस्थान दिवस भी पूरे उत्साह के साथ मनाया गया। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर गौर-ईशर की सवारी निकाली गई जिसे देखने के लिए लन्दन के लोग भी आए।
भाईपो ने बताया कि गणगौर पूजन के साथ गणगौर की विदाई गीतों से आयोजन अविस्मरणीय बन गया। इस अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में राजस्थानी गीतों-नृत्यों ने शमां बांध दिया। कार्यक्रम की विशेषता यह रही कि इसमें केवल महिलाओं ने सभी भूमिकाएं निभाई।
लंदन की फिजां में महा घूमर यंग की थाप, घुडला घूमे जैसे गीतों पर नृत्यों की प्रस्तुति देखते ही बनती थी। मयूरी, नन्दिनी, अंजलि, मेघना गु्रप, शालिनी, मीनाक्षी भाटी, अपर्णा बंग सहित राजस्थानी महिलाओं ने विहंगम प्रस्तुतियों से शमां बांध दिया। कार्यक्रम का उद्देश्य अपने वतन से मीलों दूर एक श्रृखला में जुड़कर हमारी संस्कृति को जीवंत बनाना है।
आपको यह रिपोर्ट कैसी लगी, हमें बताएं। सरकारी और कॉरपरेट दवाब से मुक्त रहने के लिए
हमें सहयोग करें : -


* 1 खबर के लिए Rs 10.00 / 1 माह के लिए Rs 100.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 1100.00

Contact us

Check Also

स्वर साधना ग्रुप की प्रथम वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम “सुरीले पल” में हृदयस्पर्शी नगमों का सुरीला सफर हुआ साकार

जयपुर। स्वर-साधना द्वारा जयपुर के जवाहर कला केंद्र में आयोजित दो कार्यक्रमों की अपार सफलता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *