शनिवार , अगस्त 24 2019 | 04:22:10 AM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / संकट के दौर से गुज़र रही पत्रकारिता – श्रीकृष्ण पांडेय

संकट के दौर से गुज़र रही पत्रकारिता – श्रीकृष्ण पांडेय

खुटहन (जौनपुर)। पत्रकारिता का कार्य जन-जागरूकता पैदा करना है। सूचना का सही संप्रेषण इसकी आत्मा है। पत्रकारिता का सदुपयोग करते हुए कलमकारों को समाज में समरसता पैदा करने की भरपूर कोशिश करनी चाहिए। उक्त बातें हिंदी दैनिक ‘द ग्राम टुडे’ के उप संपादक व वरिष्ठ पत्रकार श्रीकृष्ण पांडेय बड़कऊ ने अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि वर्तमान दौर की पत्रकारिता गुटबंदियों का शिकार हो गई है। एक गुट के पत्रकार दूसरे पत्रकारों को फूटी आंखों भी नहीं देखना चाहते। सच्ची पत्रकारिता का दंभ भरने वाले तथाकथित पत्रकारों को इस पर गम्भीरता से विचार करना चाहिए। जन सेवा करने वाले माध्यम को तथाकथित पत्रकारों ने पैसा कमाने का जरिया बना लिया है इसलिए समाज में पत्रकारों की विश्वसनीयता पर प्रश्न उठते रहते हैं।

पांडेय ने कहा कि पत्रकारों को नेताओं व अधिकारियों की परिक्रमा से बचना चाहिए। ख़बर की सच्चाई के लिए घटना स्थल पर  पहुँचना, सच्ची ख़बर की पहली शर्त है। लेकिन वर्तमान में अधिकतर पत्रकार फ़ोन से घटना स्थल की जानकारी लेकर अथवा थाने का चक्कर लगाकर ख़बरों को तोड़-मरोड़कर पेश कर देते हैं। इधर के दिनों में फ़ैशनेबल पत्रकारों की इस क़दर बाढ़ आई है कि उनकी जमात हर जगह देखने को मिल जाती है। उन्होंने नवागंतुक पत्रकारों से अपील करते हुए कहा कि सिर्फ एक पक्ष की बात सुनकर ख़बर बनाना सरासर अन्याय है। इतना ही नहीं यह ख़बर की आत्मा की हत्या के बराबर है। निष्पक्षता पत्रकारिता की सबसे बड़ी कसौटी है। समाज में बुरे कार्यों का विरोध करने के साथ -साथ अच्छे कार्यों को प्रोत्साहित करते रहना पत्रकारिता का जरूरी दायित्व है। इसलिए युवा पत्रकारों से उन्होंने कहा कि पत्रकारिता को जनसेवा का माध्यम बनाइए। साथ ही उन्होंने कहा कि समाज में एकता व भाईचारे की भावना को बढ़ाने के लिए की गई पत्रकारिता से ही जनता की नज़रों में पत्रकारों का सम्मान बढ़ेगा।

आपको यह रिपोर्ट कैसी लगी, हमें बताएं। सरकारी और कॉरपरेट दवाब से मुक्त रहने के लिए
हमें सहयोग करें : -


* 1 खबर के लिए Rs 10.00 / 1 माह के लिए Rs 100.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 1100.00

Contact us

Check Also

बाबरी मस्जिद विध्वंस की 26 बरसी आज, पूरे उत्तरप्रदेश में सुरक्षा चाक चौबंद

अयोध्या। उत्तरप्रदेश के अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस की आज 26वीं बरसी है। यूपी प्रशासन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *